Shayari and poetry by anubhav Agrawal lyrics in Hindi

Anubhav Agrawal ।। shayari and poetry by anubhav Agrawal lyrics in Hindi best 3

Anubhav Agrawal ।। Shayari and poetry by anubhav Agrawal lyrics in Hindi : दोस्तो यहां मै आपके और मेरे सबसे पसंदीदा writer अनुभव अग्रवाल कि कुछ शायरी और पोएट्री लेकर आया हूं। उनकी YouTube वीडियो देखकर bhoht motivate होता हूं तो सोचा क्यों ना अपने से जुड़े लोगों को भी उन से जोड़ा जाए उम्मीद करता हूं । आप सब को अनुभव अग्रवाल की लिखी पोएट्री और शायरी पसंद आए।

Poet Dear female besty – अनुभव अग्रवाल

पहले मुझे ऐसा लगता था कि यहां दुनिया में हर कोई सेलफिश होता है। किसी को किसी की फिक्र नहीं, लोग आते है और बिना दूसरों की feelings कि कदर करे हर्ट करके चले जाते है।
पर तुझसे मिले तुझसे मिलकर मुझे यह एहसास हुआ कि नहीं भाई कुछ लोग होते हैं ।

जो अपने से ज्यादा दूसरों के बारे में सोचते हैं।

जिन्हे रिश्तों की कदर होती है।

दूसरों की feelings कि वो बहुत केयर करते है पता है सब एक जैसे नहीं होते हैं |

पर मुझे तू मिली और मैं बहुत ज्यादा lucky महसूस करता हूं।

एक ऐसा शख्स जिसको मैं जितना मर्जी चाहे उतना परेशान कर लूं ।अपनी बकवास से कभी मुंह नहीं मोड़ती, रात बेरात कॉल करूं तो उठा ही लेती है।

कभी जज नहीं करती चाहे जों मर्जी करलू।

तुझ जैसी मैच्योर और फन loving  लड़की मैंने आज तक नहीं देखी ।
Such a deadly combo है तू।
मुझे नहीं पता हम कहां जा रहे हैं हमारे डायरेक्शन सेम है या डिफरेंट पर यार जिंदगी के सफर को तेरे साथ तय करने में मजा आ गया।
तू जैसी है बहुत अमेजिंग है बस ऐसी ही रहना जो चोमु सी
❤️❤️so much love hugs to you.珞珞

By Anubhav Agrawal

Writen and lyrics By – अनुभव अग्रवाल

Jab koi sach me pyar karaega hindi poetry lyrics – By Anubhav Agrawal

जब किसी को सच में तुमसे प्यार होगा ना वह तुम्हें कभी भी रोड की ट्रैफिक वाली साइड नहीं चलने देगा ।

क्योंकि उसको खुद भी ज्यादा तुम्हारी फिक्र होगी।

उसकी जिंदगी में कुछ भी होगा सबसे पहले फोन तुम्हें आ जाएगा और बोलेगा अभी पता क्या हुआ।

छोटी–2 चीज़े करेगा जो तुम्हें हमेशा खुश रखें गी और जब तुम्हारे लिए लड़ने की बात आएगी तो पीछे नहीं हटेगा डट के सामना करे गा हर सिचुएशन का।

परफेक्ट नहीं होगा खामियां होंगी उसमें भी बहुत।

लेकिन चांद पर दाग ना हो तो वो चांद कैसा।

हर वह इंसान जो तुम्हें आई लव यू बोले जरूरी नहीं वो तुमसे प्यार करता हो।

प्यार किया नहीं जाता बस हो जाता है । यह एक एहसास है, थोड़ा खूबसूरत थोड़ा दर्द भरा।

hindi poetry and shayari by anubhav agrawal
Shayari and poetry by anubhav Agrawal lyrics in Hindi
Shayari and poetry by anubhav Agrawal lyrics in Hindi


 मुझमें ही कोई कमी है- Shayari and poetry by anubhav Agrawal lyrics in Hindi


 कभी कभी ऐसा लगता है जैसे – मुझमें ही कोई कमी है।

कमी की मै खुद से पहले दुसरो के    बारे में सोचता हूं,कमी की अपनी  खुशी से ज्यादा दुसरो की खुशियों के बारे में सोचता हूं।

दूसरों की चीजो से मुझे फर्क पड़ता है,मुझमें  औरो की तरह  चालाकियां नहीं है,मै दुसरो के जैसे सेल्फिश नहीं हूं।

जब देखो लोग इस्तेमाल कर के चले जाते है,अपना काम निकालते ही रिश्ते ख़तम करने लगते है, दूरियां बनाने लगते है।

वक़्त के साथ साथ ये तो पता चल गया कि अच्छाई भले ही हो इस दुनिया में आज भी,लेकिन बुराई से ज्यादा नहीं है।

बुरे लोग बुरी आदते,बुरी नियते,आजकल इतनी बढ़ चुकी हूं कि ऐसा लगता है जैसे हर कोई इंसान के भेष में हैवान बना घुम रहा है।

यहां अब किसी का कोई भरोसा नहीं कोन कब क्या कर ले कब बदल जाए कब रास्ते बदल ले कब नुकसान पहुंचा दे।

जब तक सब कुछ ठीक है,तब तक ठीक है,जब बिगड़ा तो बिगड़ता चला जाता है।किसी को किस्मत से कोई अच्छा इंसान मिल जाए तो मिल जाए,यहां हर किसी की किस्मत अच्छी नहीं होती।

हम सब बस एक रेस में दौड़ते चले जा रहे है और किस्मत को आजमाएं चले जा रहे है ,उम्मीद किसी से कुछ नहीं रखना,बस खुद को बेहतर बनाना और इस जमाने को अच्छे से समझ के इसमें ढलना नहीं,इसके रंग से दूर रहना।उम्मीद है आने वाला समय बेहतर  हो,और ना हो तब भी खुद को अब tyaar रखना है।

By Anubhav Agrawal Shayari and poetry by anubhav Agrawal lyrics in Hindi

Shayari and poetry by anubhav Agrawal lyrics in Hindi

read more shayari

Read More